Breaking News


संवाददाता

सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज तहसील क्षेत्र के ह्ल्लौर गावं में मोहर्रम के मौके पर आठवीं का जुलूस निकाला गया । गांव की दोनों कदीमी अंजुमनैवं ,अन्जुमन गुलदस्ता मातम और अंजुमन फरोग मातम के साथ सुबह से ही मातमी दस्ता निकाला गया जो देर शाम दरगाह हजरत अब्बास में जाकर खत्म हुआ । मोहर्रम के मौके पर ह्ल्लौर में आठवीं का जुलूस निकाला गया । अन्जुमन गुलदस्ता मातम और अंजुमन फरोग मातम के सेक्रेटरी की निगरानी में सुबह से ही मातमी दस्ते को निकाला गया जिसमें दोनों अन्जुमनों के नौहा ख्वानों ने नौहा पढ़ते हुए पूरे गांव में विभिन्न रास्तों से होकर गुज़रे । दोपहर बाद मातमी जुलूस डुमरियागंज- बस्ती मुख्य चौराहे पर पहुँचा जहाँ काफी देर तक हजरत इमाम हुसैन के शैदाइयों ने शिद्दत से मातम किया । हज़रत इमाम हुसैन और उनके साथियों पर हुए कर्बला के जुल्म को पिरोये हुए नौहा को सुनकर लोगों की आंखें नम हो गईं , हर तरफ या हुसैन , हाय हुसैन की आह निकल पड़ी । फिर मातमी दस्ता माडर्न स्कूल के पीछे होते हुए , शाह अब्दुर्सूल की मज़ार के पास से गुज़रता हुआ दरगाह हज़रत अब्बास पहुँच कर खत्म हुआ । जहाँ पर फौजी इकबाल रज़ा और उनके बेटे मास्टर शजर हैदर ने हुसैनी कमाण्डर हजरत अब्बास की शहादत पर मजलिस पढी । वाक्यात हज़रत अब्बास अलै. सुनकर सभी शैदाइयों में गमजदा कोहराम बरपा हो गया । इस प्रोग्राम में असगर जमील, वजीह आलम, कसीम रिज़वी,सावन हल्लौरी,शाहकार, जानशीन,निसार ,नौरोज़ ,नौशाद एडवोकेट ,नफासत रिज़वी,लल्ला अपट्रान,शमशाद हल्लौरी ,बेताब हल्लौरी,कामियाब बब्लू, अफसर रिज़वी,शौकत रिज़वी ,आसिफ़ ,डा० सोनू,शराफत रिजवी आदि की भूमिका उल्लेखनीय रही.

Comments

Leaver your comment

Enter valid Name
Enter valid Email
Enter valid Mobile
Enter valid Message